लगातार दूसरे शतक से चूकने के बाद भी हो रही तारीफ, यह है वजह

October 16, 2017, 10:29 AM
Share

नई दिल्ली। पिछले मैच में शतकवीर नीतीश राणा रेलवे के खिलाफ खेले जा रहे दूसरे मैच में भी शतक लगाने से चूक गए। रेलवे के खिलाफ शनिवार को यहां करनैल सिंह स्टेडियम में रणजी ट्रॉफी के ग्रुप-ए के मुकाबले के पहले दिन शनिवार को शीर्ष क्रम के लड़खड़ाने के बाद दिल्ली की पारी को नीतीश राणा (89), अनुज रावत (74) और मनन शर्मा (नाबाद 68) की पारियों से सहारा मिला।

तीनों के अर्धशतकों की बदौलत दिल्ली दिन का खेल खत्म होने तक छह विकेट पर 318 रन के स्कोर पर पहुंचने पर सफल रही। रेलवे की ओर से अनुरीत सिंह (3/71) सबसे सफल गेंदबाज रहे।

अनुरीत ने दिए झटके –

दिल्ली के कप्तान इशांत शर्मा ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। पिछले मैच में असम के खिलाफ शतक जड़ने वाले सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर (02) को अनुरीत ने चौथे ओवर में ही विकेट के पीछे लपकवा कर सस्ते में पवेलियन भेजा। जल्द ही उन्मुक्त चंद (11) को रन चुराने का अंजाम रनआउट के रूप में भुगतना पड़ा। ध्रुव शौरी (16) को अनुरीत ने अपना दूसरा शिकार बनाकर दिल्ली का स्कोर 34 रन पर तीन विकेट कर दिया।

लगातार शतक से चूके नीतीश –

संकट में नजर आ रही दिल्ली की पारी को पिछले मैच के एक और शतकवीर नीतीश ने पदार्पण मैच खेल रहे हिम्मत सिंह (45) के साथ मिलकर सहारा दिया। दोनों ने चौथे विकेट के लिए 109 रन जोड़े। अविनाश यादव (1/64) की गेंद को कट करने की कोशिश में हिम्मत विकेट के पीछे लपके गए।

नीतीश ने विकेटकीपर बल्लेबाज अनुज के साथ मिलकर स्कोर को 200 रन पर पहुंचाया। इसी स्कोर पर शिवाकांत शुक्ला (1/52) की गेंद पर कप्तान महेश रावत ने नीतीश को स्टंप आउट कर उन्हें लगातार दूसरे मैच में शतक जड़ने से वंचित कर दिया। अब क्रीज पर बायें हाथ के दो बल्लेबाज अनुज और मनन थे। दोनों ने धैर्य के साथ रेलवे के गेंदबाजों का सामना किया।

Source- Nai Duniya

Share

This entry was posted in Cricket, Sports