शिवराज सरकार ने लोगों को आम की तरह चूसा और गुठली की तरह फेंक दिया : केजरीवाल

November 6, 2017, 11:20 AM
Share

दिल्ली के सीएम और आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल रविवार को मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान पर जमकर बरसे. उन्होंने भोपाल में आयोजित आप की शंखनाद रैली में कहा कि शिवराज ने मध्यप्रदेश को आम की तरह चूस लिया.

अरविंद केजरीवाल ने शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व वाली प्रदेश सरकार पर भ्रष्टाचार एवं कुशासन के आरोप लगाए. उन्होंने प्रदेश के लोगों से अपील की कि वे राज्य का भविष्य बदलने के लिए अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में इस सरकार को जड़ से उखाड़कर फेंक दें.

आम आदमी पार्टी की बीएचईएल क्षेत्र के दशहरा मैदान पर आयोजित शंखनाद रैली में केजरीवाल ने कहा कि मध्यप्रदेश भ्रष्टाचार के लिए फेमस है. मध्यप्रदेश में बिजली सबसे महंगी है क्योंकि शिवराज सरकार ने पांच निजी कंपनियों से बिजली के गैर कानूनी समझौते किए हैं. उन्होंने खुलासा किया कि दिल्ली सरकार मध्यप्रदेश से सस्ती बिजली खरीदती है, फिर मध्यप्रदेश में बिजली महंगी क्यों है?

उन्होंने कहा कि पिछले 14 साल में बीजेपी नीत मध्यप्रदेश सरकार में भ्रष्टाचार के कारण शिक्षक, छात्र, किसान, व्यापारी, महिलाएं, आदिवासी सहित बच्चे भी दुखी है.

केजरीवाल ने कहा, ‘बीजेपी मध्यप्रदेश में पिछले 14 साल से शासन कर रही है. बीजेपी के शासन के पहले साल में पैदा हुआ बच्चा 10वीं कक्षा में पहुंच गया होगा. अच्छा शासन चलाया जाए तो एक बढ़िया मध्यप्रदेश खड़ा किया जा सकता है. मैं आपसे पूछता हूं कि क्या इस शासनकाल में शिवराज सिंह चौहान ने कोई एक अच्छा काम किया है, जो आपको याद आ रहा हो.’

उन्होंने कहा कि बीते 14 साल में शिवराज सिंह ने क्या किया. प्रदेश में 70 प्रतिशत बच्चे फेल होते हैं. 45 प्रतिशत बच्चे कुपोषित हैं और 75 बच्चे रोज मर रहे हैं. राज्य में 12 बलात्कार रोज हो रहे हैं. रोज पांच किसान आत्महत्या करते हैं. शिवराज सरकार में शिक्षक, स्टूडेंट, किसान, व्यापारी सभी दुखी हैं. मध्यप्रदेश में हर तरफ  भ्रष्टाचार ही भ्रष्टाचार है.प्रदेश का एक लाख 70 हजार करोड़ का बजट सब मिलकर खा जाते हैं. मध्यप्रदेश की पहचान है व्यापम घोटाला. शिवराज सिंह की सरकार भ्रष्टाचार के लिए जबकि दिल्ली की मेरी सरकार अपनी ईमानदारी के लिए जानी जाती है.

केजरीवाल ने कहा कि हम शंखनाद करने जा रहे हैं शिवराज सरकार के खिलाफ और भ्रष्टाचार के खिलाफ. उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश को बचाने के लिए यहां पर भी अगले साल विधानसभा चुनाव लड़ना पड़ेगा. यदि आप भ्रष्टाचार चाहते हो, तो शिवराज को वोट दो और यदि नहीं, तो ईमानदार आम आदमी पार्टी को वोट दें.

केजरीवाल ने कहा कि बीजेपी और कांग्रेस के नेता कहते हैं कि मैं लड़ता बहुत हूं, लेकिन साथ में यह भी कहते हैं कि केजरीवाल कट्टर ईमानदार है.

उन्होंने कहा कि केंद्रीय सतर्कता आयोग ने हाल ही में एक सर्वेक्षण कराया था. इसमें कहा गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बीजेपी नीत केंद्र सरकार में पिछले तीन साल में 67 प्रतिशत भ्रष्टाचार बढ़ा है, जबकि दिल्ली की मेरे नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी की सरकार में पिछले ढाई साल में 81 प्रतिशत भ्रष्टाचार कम हो गया है.

Source-Aap Express

Share

This entry was posted in Political