6 Oct 2017

फूड, एम्बीशन और फैमिली के मसाले से बनी जायकेदार डिश है Chef



खास बातें
  1. 'शेफ' में पापा बनने और प्रोफेशन की जद्दोजहद में सैफ अली खान
  2. फिल्‍म में काफी मजेदार नजर आ रहे हैं सैफ अली खान
  3. सैफ अली खान की 'शेफ' को हमारी तरफ से मिलते हैं 3.5 स्‍टार
  4. रेटिंगः 3.5 स्टार
डायरेक्टरः राजा कृष्ण मेनन
कलाकारः सैफ अली खान, पद्मप्रिया जानकीरमन, शोभिता धूलिपाला, चंदन राय सान्याल, मिलिंद सोमन और स्वर काम्बले
सैफ अली खान की ‘शेफ’ फूड, एम्बीशन और फैमिली को लेकर बुनी गई मॉडर्न फैमिली ड्रामा है, जिसमें एक प्यारी-सी कहानी है. इसमें एक महत्‍वकांक्षी शेफ है, अपने बेटे को प्यार करने वाला पिता है और एक सिंगल मदर है. सबसे खास बात यह कि इसमें रोड ट्रिप भी है. हॉलीवुड की हिट फिल्म ‘शेफ’ का यह ऑफिशल रीमेक है और राजा कृष्ण मेनन ने जॉन फेवरू की फिल्म के साथ पूरा इंसाफ भी किया है. फिल्म में सभी कैरेक्टर्स अच्छे लगते हैं, कहानी रिफ्रेशिंग लगती है और लंबे समय से इस तरह की अच्छी फिल्म का इतंजार भी था. हालांकि फिल्म हल्की-सी खींची हुई लगती है लेकिन अंत में चेहरे पर मुस्कान छोड़ जाती है तो इस बात को नजरअंदाज किया जा सकता है

कहानी में कितना दम
कहानी दिल्ली के रोशन कालरा (सैफ अली खान) की है, जिसका नाम उसे चैन से नहीं जीने देता है. उसे बचपन से खाना बनाने की लत लग जाती है और वह समय मिलते ही राम लाल छोले भठूरे वाले के पास खाना बनाने पहुंच जाता था. लेकिन पिता अपने बेटे को इंजीनियर बनाना चाहते हैं. बस वह घर छोड़कर भाग जाता है और अपने ख्वाबों का पीछा करते हुए, थ्री मिशलिन स्टार शेफ बन जाता है. लेकिन काम की वजह से पत्नी से तलाक हो जाता है और गुस्से की वजह से नौकरी छूट जाती है. बस किस तरह पत्नी, बेटा और दोस्त मिलकर इस शेफ को जिंदगी जीना और उसके खोए हुनर को लौटाते हैं, 'शेफ' उसी की कहानी है. फिल्म में छोटे-छोटे मूमेंट्स हैं जो चेहरे पर मुस्कान ला देते हैं, और कहानी भी बहुत ही प्यारी और आसान सी है. हालांकि सॉन्ग्स की वजह से थोड़ी खींची हुई लगती है. लेकिन सॉन्ग अच्छे हैं.

एक्टिंग के रिंग में
सैफ अली खान, रोशन कालरा के किरदार में खूब जमे हैं. उन्होंने पिता और एम्बीशस शेफ के शेड्स बहुत बेहतरीन ढंग से पेश किए हैं. लंबे समय बाद सैफ अली खान को स्क्रीन पर देखकर मजा आया है, और उन्होंने इस किरदार से दिल जीता है. फिल्म का सरप्राइज पैकेज मलयालम फिल्मों की एक्ट्रेस पद्मप्रिया जानकीरमन हैं. उन्होंने सिंगल मदर का रोल स्क्रीन पर मलाई की तरह निभाया है. उनकी डायलॉग डिलीवरी कमाल की है. उनके चेहरे के एक्सप्रेशंस ऐसे हैं कि लगता ही नहीं है कि वे एक्टिंग कर रही है. उन्हें स्क्रीन पर देखना वाकई अच्छा लगता है. शोभिता धूलिपाला ने भी सैफ अली का दोस्त खूबसूरत ढंग से किया है. चंदन रॉय सान्याल और मिलिंद सोमन ने भी अपने किरदारों को सधे हुए ढंग प्ले किया है. स्वर काम्बले ने भी अच्छा काम किया है.

बातें और भी हैं
‘शेफ’ की कहानी नए दौर के संबंधों की है और बहुत ही रिफ्रेशिंग है. एक्टिंग के मामले में भी मजबूत फिल्म है. फिल्म में छोटे-छोटे पल आते हैं जो हंसाते हैं. बहुत ही सधा हुआ मजाक है. फिल्म का बजट लगभग 30 करोड़ रु. बताया जाता है. इस तरह फिल्म मीडियम बजट की है. नई और रिफ्रेशिंग कहानी और हल्की-फुल्की फिल्मों के शौकीनों के लिए यह मस्ट वॉच फिल्म है.
Source-NDTV

Follow by Email