29 May 2018

32 टीमें ऐसे करेंगी 64 मैचों के फीफा वर्ल्ड कप की तैयारी



फीफा वर्ल्डकप 2018 की शुरुआत 14 जून से रूस में होने जा रही है. यह इस फुटबॉल के महाकुम्भ का 21वां संस्करण होगा. 15 जुलाई तक चलने वाले इस एक महीने के टूर्नामेंट पर पूरी दुनिया की नजरें होंगी.

4 सालों में एक बार 32 टीमों के बीच होने वाले कुल 64 मैचों का इंतजार फुटबॉल प्रेमियों को बेसब्री से रहता है. हाल ही में रियल मैड्रिड ने कीव में खेले गए यूएफा चैंपियंस लीग के फाइनल में लिवरपूल को 3-1 से हराकर लगातार तीसरी बार खिताब पर कब्जा किया, जिसके बाद अब सबकी निगाहें वर्ल्ड कप पर होंगी.

सोमवार को वर्ल्ड कप वार्म अप फ्रेंडली मुकाबलों की शुरुआत हो चुकी है. इन मैचों को भी इंटरनेशनल मुकाबले का दर्जा हासिल है. वर्ल्ड कप भले ही रूस में है, लेकिन, ये वार्म अप मैच अलग-अलग देशों में खेले जाएंगे. टीमें दो से चार फ्रेंडली वार्म अप मैच खेलेंगी.

इन फ्रेंडली मैचों का मकसद खिलाड़ियों के बीच तालमेल कायम करना होता है. ये खिलाड़ी साल में लगभग 9 से 10 महीने अलग-अलग क्लबों से खेलते हैं. क्लबों के प्रदर्शन के आधार पर ही कोच टीम के खिलाड़ियों का चयन करता है. 

वर्ल्ड कप से पहले सभी 32 टीमें प्रैक्टिस कैंप आयोजित करती हैं. यह कैंप अपने देश में या बाहर भी आयोजित हो सकता है. आमतौर पर ऐसे ही कैंप के दौरान टीम की फाइनल रणनीति तय होती है.

बता दें कि 1930 से फीफा वर्ल्डकप की शुरुआत हुई थी और हर 4 सालों पर होने वाले इस फुटबॉल के महासंग्राम में सबसे ज्यादा 5 बार चैंपियन का ताज ब्राजील के सिर बंधा है, जबकि मौजूदा चैंपियन जर्मनी ने 4 बार इस खिताब को अपने नाम किया है. फीफा वर्ल्डकप 2018 का उद्धाटन मैच मेजबान रूस और सऊदी अरब के बीच 14 जून 2018 को भारतीय समयानुसार रात 8.30 बजे से खेला जाएगा.

फीफा वर्ल्ड कप की शुरुआत मॉस्को में होगी. रूस के 11 शहरों (12 मैदान) मॉस्को, सेंट पीट्सबर्ग, सोच्चि, कजान, सरांस्क, कैलिनिंग्राड, वोल्गोग्रेड, रोस्तोव-ऑन-डॉन, निज्नी नोवग्रोड, येकातेरिनबर्ग और समारा में मैच खेले जाएंगे.

Source - Aaj Tak 

Follow by Email