उमेश यादव ने रचा इतिहास, 19 साल बाद ऐसा कारनामा करने वाले बने पहले भारतीय गेंदबाज


भारत और वेस्टइंडीज के बीच खेले जा रहे दूसरे टेस्ट के दूसरे दिन टीम इंडिया के तेज गेंदबाज उमेश यादव ने इतिहास रच दिया। दरअसल, वह 19 साल बाद ऐसा करने वाले पहले भारतीय तेज गेंदबाज बने।

शनिवार को वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच की पहली पारी में उन्होंने 6 विकेट लिया। मुकाबले के पहले दिन उन्होंने 3 और दूसरे दिन के पहले सेशन में 3 और विकेट लेकर उमेश ने इतिहास रच दिया। इसके साथ ही वह होमग्राउंड पर किसी एक पारी में 6 विकेट हॉल लेने वाले पहले भारतीय तेज गेंदबाज बन गए हैं।



शनिवार को वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच की पहली पारी में उन्होंने 6 विकेट लिया। मुकाबले के पहले दिन उन्होंने 3 और दूसरे दिन के पहले सेशन में 3 और विकेट लेकर उमेश ने इतिहास रच दिया। इसके साथ ही वह होमग्राउंड पर किसी एक पारी में 6 विकेट हॉल लेने वाले पहले भारतीय तेज गेंदबाज बन गए हैं।

उमेश यादव ने वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टेस्ट के दूसरे दिन करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 88 रन देकर 6 विकेट झटके। पहले दिन उन्होंने शाई होप, शेन डॉरिच और जेसन होल्डर का विकेट चटकाया, जबकि दूसरे दिन उमेश ने देवेंद्र बिशु, रोस्टन चेस और शेनन गेब्रियल को अपना शिकार बनाया। 

बता दें कि इससे पहले टेस्ट में वेंकटेस प्रसाद ने टीम इंडिया की तरफ से यह कारनामा 1999 में पाकिस्तान के खिलाफ किया था। उन्होंने 33 रन देकर 6 विकेट अपने नाम किए थे। यह उनका करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। इसके अलावा कुंबले में भी इसी मुकाबले में 70 रन देकर 6 विकेट झटके थे। प्रसाद व कुंबले के बाद उमेश यादव ने 19 साल बाद इस कारनामे को दोहराया है।

Source - Amar Ujala 


Follow by Email