सचिन के बाद पृथ्वी शॉ ने किया ये कारनामा, विराट ने ऐसे दी शाबाशी, फैन्स बोले- नए सितारे का हुआ जन्म


IND v WI में कुछ ऐसा हुआ, जिसका यकीन करना मुश्किल होगा. इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू कर रहे पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) ने शानदार शतक जड़ा और इसी के साथ डेब्यू मैच में शतक जड़ने वाले पहले सबसे युवा भारतीय क्रिकेटर बन चुके हैं और टेस्ट में मेडन सेन्चुरी जड़ने वाले दूसरे सबसे युवा भारतीय क्रिकेटर बन चुके हैं. पहले स्थान पर सचिन तेंदुलकर हैं. जिन्होंने 1990 में इंग्लैंड के खिलाफ मेंचेस्टर में मेडन सेन्चुरी जड़ी थी. पृथ्वी वेस्टइंडीज के खिलाफ अटैकिंग मोड में नजर आए. शुरुआत से ही उन्होंने चौके मारना शुरू कर दिया. प्रेशर को दूर रखकर उन्होंने शानदार पारी खेली. शतक जड़ने के बाद कप्तान विराट कोहली ने भी खड़े होकर तालियां बजाकर शाबाशी दी. ट्विटर पर भी पृथ्वा शॉ ट्रेंड कर रहे हैं. एक यूजर ने लिखा- नए स्टार का जन्म हुआ है. आइए देखते हैं पहले ही मैच में शतक जड़कर पृथ्वी ने कौन से रिकॉर्ड बना डाले...





Prithvi Shaw completes a century on his Test debut with a strike rate of 102.02! Becomes 2nd youngest India to score a Test 100 after Sachin Tendulkar.


शतक जड़कर सचिन के पीछे खड़े हुए पृथ्वी शॉ

पृथ्वी ने सबसे कम उम्र में पहली सेंचुरी जड़ने वाले दूसरे भारतीय बन चुके हैं. इससे पहले 1990 में सचिन तेंदुलकर ने इंग्लैंड के खिलाफ पहली सेंचुरी जड़ी थी. उस वक्त उनकी उम्र 17 साल 112 दिन थी. 18 साल 329 दिन के पृथ्वी शॉ ने वेस्टइंडीज के खिलाफ पहली सेन्चुरी जड़कर दूसरे सबसे युवा भारतीय क्रिकटर बन चुके हैं. तीसरे नंबर पर कपिल देव (20 साल 21 दिन) और चौथे नंबर पर अब्बास अली बेग (20 साल 131 दिन) हैं.





टेस्ट में सबसे क्रम उम्र में शतक जड़ने वाले चौथे खिलाड़ी
वर्ल्ड क्रिकेट में भी पृथ्वी शॉ का नाम जुड़ चुका है. वेस्टइंडीज के खिलाफ शतक जड़कर वो टेस्ट में सबसे क्रम उम्र में शतक जड़ने वाले चौथे खिलाड़ी बन चुके हैं. पहले स्थान पर बांग्लादेश के मोहम्मद अश्रफुल हैं. जिन्होंने श्रीलंका के खिलाफ शतक जड़ा था. उस वक्त उनकी उम्र 17 साल 61 दिन थी. दूसरे नंबर पर मसाकाज्दा हैं. उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ हरारे में शतक जड़ा था. उस वक्त उनकी उम्र 17 साल 353 दिन थी. तीसरे नंबर पर सलीम मलिक हैं. 1982 में श्रीलंका के खिलाफ शतक जड़ा था. उस वक्त उनकी उम्र 18 साल 323 दिन थी. चौथे नंबर पर पृथ्वी शॉ का नाम जुड़ चुका है. 

टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करते हुए सबसे तेज शतक जमाने वाले तीसरे खिलाड़ी
टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करते हुए शिखर धवन ने 2013 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ महज 85 गेंदों पर शतक जड़ा था. वो पहले स्थान पर हैं. ड्वैन स्मिथ ने 2004 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ डेब्यू किया था. उन्होंने 93 गेंदों पर शतक जड़ा था तीसरे नंबर पर पृथ्वी शॉ का नाम जुड़ चुका है. उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले मैच में 99 गेंद में शतक जड़ा है.

Source - NDTV 


Follow by Email