डॉक्टरों का खुलासा- सेक्स एडिक्ट है राम रहीम, जेल में बिगड़ी तबीयत

रेप केस में 20 साल की जेल की सजा काट रहे राम रहीम के बारे में डॉक्टरों ने सनसनीखेज खुलासा किया है. रोहतक जेल में राम रहीम की जांच करने आए डॉक्टरों की टीम का कहना है कि वह सेक्स एडिक्ट है. इसी वजह से जेल में उसकी स्थिति खराब हो रही है. वह लगातार बेचैन रहता है और उसकी नींद नहीं आती है. उसे इलाज की जरूरत है.

राम रहीम की जांच करने वाले एक डॉक्टर का कहना है, 'बाबा राम रहीम सेक्स का आदी है. डेरा आश्रम से जेल आने के बाद उसे शारीरिक सुख नहीं मिला है. इसी वजह से वह बेचैन रहता है. उसकी समस्या लगातार बढ़ती जा रही है. यदि उसके इलाज में देर किया गया, तो उसकी समस्या बड़ी हो सकती है. उसे तुंरत इलाज की सख्त जरूरत है.'
डेरा के एक पूर्व सेवादार ने दावा किया था कि राम रहीम सेक्स टॉनिक लेता था. उसके लिए ऑस्ट्रेलिया और कई दूसरे देशों से शक्तिवर्धक पेय मंगाया जाता था. इतना ही नहीं कुछ लोगों ने तो यहां तक दावा किया है कि वह ड्रग्स का सेवन भी करता था. साल 1988 तक उसे शराब का सेवन करते देखा गया है. इसकी एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी.

बताते चलें कि राम रहीम और उसकी करीबी हनीप्रीत के बीच अवैध संबंध की बात कही जाती रही है. राम रहीम हमेशा हनीप्रीत को अपने साथ रखता था. यहां तक की जेल जाने के बाद भी उसने जेल प्रशासन से मांग की थी कि उसके साथ हनीप्रीत को रखा जाए. लेकिन मना कर दिया गया. इसके बाद उसने हनीप्रीत को जेल में मिलने के लिए फोन कराया था.

आखिर कहां है हनीप्रीत, खोज रही पुलिस

इधर, हनीप्रीत अभी तक पुलिस की नजर से ओझल है. उसकी तलाश में हरियाणा पुलिस यूपी के लखीमपुर खीरी तक पहुंच गई. वहां एक गाड़ी संदिग्ध अवस्था में मिली है, जिसकी जांच की जा रही है. अपर पुलिस अधीक्षक घनश्याम चौरसिया ने बताया कि हरियाणा पुलिस के एक सब इंस्पेक्टर और दो सिपाही हनीप्रीत की तलाश में आए थे.

इस तरह प्रियंका तनेजा बनी हनीप्रीत इंसा

हनीप्रीत का असली नाम प्रियंका तनेजा है. हरियाणा के फतेहाबाद की रहने वाली प्रियंका तनेजा उर्फ हनीप्रीत और विश्वास गुप्ता की शादी 14 फरवरी, 1999 को डेरा प्रमुख राम रहीम ने ही करवाई थी. दोनों की शादी ज्यादा दिन नहीं चली. कुछ समय बाद हनीप्रीत ने राम रहीम से शिकायत कर दी थी कि ससुराल वाले दहेज मांग रहे हैं.

हनीप्रीत-राम रहीम के बीच अवैध संबंध?

राम रहीम ने 2009 में हनीप्रीत को गोद ले लिया. पहले से ही उसकी दो बेटियां और एक बेटा है. इनके नाम अमनप्रीत, चमनप्रीत और जसमीत है. साल 2011 में विश्वास गुप्ता ने हाईकोर्ट में केस दायर कर राम रहीम के कब्जे से हनीप्रीत को मुक्त कराने की मांग की थी. उसने दोनों के बीच अवैध संबंध का भी आरोप लगाया था.

Source - Aaj Tak

Follow by Email