मंत्रिमंडल ने भारत और बेलारूस के बीच निवेश संबंधी द्विपक्षीय निवेश संधि पर हस्‍ताक्षर एवं पुष्टि को मंजूरी प्रदान की

प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में मंत्रिमंडल ने भारत और बेलारूस के बीच निवेश संबंधी द्विपक्षीय निवेश संधि पर हस्‍ताक्षर एवं पुष्टि को अपनी मंजूरी प्रदान कर दी है। 
इस संधि के फलस्‍वरूप दोनों देशों के बीच निवेश के प्रवाह में वृद्धि होने की संभावना है। इस करार से निवेशकों के विश्‍वास में सुधार होने की संभावना है जिसके फलस्‍वरूप एफडीआई और ओवरसीज प्रत्‍यक्ष निवेश (ओडीआई) के अवसरों में बढ़ोत्‍तरी होगी और रोजगार सृजन पर इसका सकारात्‍मक प्रभाव पड़ेगा। 

दोनों देशों के बीआईटी पर हस्‍ताक्षर और पुष्टि एक नीतिगत पहल का काम करेगा क्‍योंकि बेलारूस यूरेशियन आर्थिक यूनियन (ईएईयू) का सदस्‍य है। भारत पहले ही किरगिज गणतंत्र के साथ द्विपक्षीय निवेश संधि के मसौदे की पहल कर चुका है और मॉडल बीआईटी मसौदे के आधार पर एक नई द्विपक्षीय निवेश संधि के लिए रूसी फेडरेशन के साथ वार्तारत है। 

Follow by Email