कैसे श्रीवास्तव से बच्चन पड़ा अमिताभ का सरनेस, KBC 9 में उठाया इस राज़ से पर्दा



अमिताभ बच्चन (फाइल फोटो)
खास बातें

  1. केबीसी में बिग बी ने खोला सरनेस से जुड़ा राज़
  2. जात-पात नहीं मानते थे बाबू जी, इसलिए हटाया श्रीवास्तव सरनेम : अमिताभ
  3. प्यार से हरिवंश राय को 'बच्चे बच्चन' 
  4. बुलाते थे लोग, इसे ही बना लिया सरनेसनई
 दिल्ली: महानायक अमिताभ बच्चन का पॉपुलर गेम शो 'कौन बनेगा करोड़पति' खत्म होने वाला हैं. केबीसी 9 का फिनाले एपिसोड मंगलवार शाम 7.30 बजे प्रसारित हुआ. वैसे, टीआरपी के चार्ट पर छाया केबीसी का यह सीजन दर्शकों को खूब भाया, इसके जरिए 75 वर्षीय बिग बी ने कंटेस्टेंट्स और जनता को पूरी तरह एंटरटेन किया. जहां अमिताभ बच्चन ने खेल में हिस्सा लेने वाले आम इंसान और सेलेब्स के बारे में कई दिलचस्प बातें जनता तक पहुंचीं, वहीं अपनी जिंदगी से जुड़े राज से भी ऑडियंस को रूबरू करवाया. हालिया एपिसोड में अमिताभ ने अपने सरनेम बदलने की कहानी सुनाई. उन्होंने इस राज़ से पर्दा उठाया कि आखिर कैसे उनका सरनेस श्रीवास्तव से बच्चन हुआ.
अमिताभ ने शो में स्वीकारा कि उनका सरनेम श्रीवास्तव होता है, लेकिन उनके पिता हरिवंश राय बच्चन जात-पात में भेदभाव देखना पसंद नहीं करते थे. ऐसे में उन्होंने तय किया कि वह अपने नाम के साथ कोई भी सरनेम इस्तेमाल नहीं करेंगे. 

लेकिन हरिवंश राय बच्चन के जेहन में सिर्फ बच्चन ही सरनेम क्यों आया? इसका जिक्र करते हुए बिग बी कहते हैं कि उनके बाबूजी (हरिवंश राय) को लोग घर में बच्चा बच्चन कह कर प्यार से पुकारते थे, इसलिए उन्होंने इसे ही अपना सरनेम चुन लिया. इसके बाद उनकी आने वाली जेनरेशन ने इसी सरनेम को आगे बढ़ाकर, इसे मशहूर बनाया. 

अपने बचपन के दिनों का जिक्र करते हुए बिग बी ने केबीसी के एक एपिसोड में स्वीकारा था कि उनकी बचपन में बेंत की छड़ी से खूब पिटाई होती थी.
Source-NDTV

Follow by Email