ये वजहें बनाती हैं अक्षय कुमार की ‘पैडमैन’ को Must Watch



पहली बार मासिक धर्म जैसे मुद्दे को हलके फुल्के अंदाज़ में पेश किया गया है. अक्षय कुमार की कॉमिक टाइमिंग से हम सब वाकिफ हैं तो यहाँ भी आप इसका लुत्फ़ उठाएंगे.
मुंबई: आर. बाल्की की फिल्म ‘पैडमैन’ तमिलमाड़ू के अरुणाचलम मुरुगनंथम की जिंदगी पर आधारित है. जिन्होंने महिलाओं को सस्ते दामों में सैनिटरी पैड बनाकर उन दिनो की मुश्किलों को हल करने के लिए पैड बनाने वाली मशीन का आविष्कार किया था और आज जिन्हें पूरे विश्व में पैडमैन के नाम से जाना जाता है. आज के बाद इस मुहीम में सुपर स्टार अक्षय कुमार का नाम शामिल हो जाता है. जो वाकई इस फिल्म के ज़रिए करोड़ों कमाने नहीं बल्कि करोड़ों की सोच बदलने की कोशिश में आगे आए हैं.
फिल्म का पूरा रिव्यू पढ़ें- इंटरटेनिंग है अक्षय कुमार की ‘पैडमैन’, देखने के बाद पीरियड को लेकर बदलेगा समाज का नज़रिया
इस फिल्म में क्या है खास-
  1. फिल्मी न होते हुए सीधी बात को सीधे तरीके से अक्षय कुमार ने परदे पर रखा और कैमरे के पीछे बल्कि ने.
  2. खुद से बनाया हुआ पैड सही बन पाया है की नहीं यह जानने के लिए पैड लगा कर पूरे गांव में साइकिल पर घूमना और सफल न हो पाने पर एक परिस्तिथि का सामना करना. इस सीन को इस दर्जे का कोई कलाकार कर भी पाता या नहीं यह सवाल ज़रूर उठेगा. इसके लिए अक्षय कुमार की दाद देनी पड़ेगी
  3. फिल्म की सच्चाई और हरेक कलाकार चाहे वह पत्नी के किरदार में राधिका आप्टे हों या फिर सहयोगी के तौर पर सोनम कपूर का किरदार सभी खूबसूरत और विश्वसनीय है. सभी ने कमाल की एक्टिंग की है.
  4. पहली बार मासिक धर्म जैसे मुद्दे को हलके फुल्के अंदाज़ में पेश किया गया है. अक्षय कुमार की कॉमिक टाइमिंग से हम सब वाकिफ हैं तो यहाँ भी आप इसका लुत्फ़ उठाएंगे.
  5. टॉपिक सीरियस मगर फिल्म नहीं. आप इसे इन्जॉय करेंगे.
  6. फिल्म के डायलॉग्स भी बहुत ही ज्यादा अच्छे हैं. कई तो ऐसे हैं कि सिनेमाघरों में उस पर आप सीटियां बजाए बगैर नहीं रह पाएंगे

Follow by Email