15 अगस्त को आएगा 'मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी' का टीजर,'बाहुबली' के राइटर ने लिखी है स्क्रिप्ट



अपकमिंग मूवी 'मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी' का टीजर 15, अगस्त, 2018 को रिलीज किया जाएगा। इस फिल्म में कंगना लक्ष्मीबाई के किरदार में हैं। यह फिल्म झांसी की रानी लक्ष्मीबाई की वीरता की कहानी बयां करेगी। कंगना ने हाल ही में फिल्म की कुछ झलकियां देखी हैं और उन्होंने मेकर्स के साथ मिलकर ये तय किया है कि फिल्म का टीजर स्वतंत्रता दिवस के मौके पर रिलीज किया जाए। इस फिल्म के प्रोड्यूसर कमल जैन हैं जिनके मुंबई ऑफिस में कंगना ने पहुंचकर उनसे मुलाकात की।

'बाहुबली' के राइटर ने लिखी है फिल्म: इस फिल्म का स्क्रीनप्ले ‘बाहुबली’ के राइटर विजयेंद्र प्रसाद ने लिखा है। उन्हें लक्ष्मीबाई का सब्जेक्ट लार्जर दैन लाइफ और इसकी अपील यूनिवर्सल महसूस हुई। लिहाजा उन्होंने फिल्म का स्क्रीनप्ले डेवलप करने का मन बनाया। दूसरी वजह यह भी थी कि इसे ‘बाहुबली’ के स्केल पर बनाना था, लिहाजा उस कैलिबर के राइटर को हायर किया गया। एक इंटरव्यू में विजयेंद्र ने कहा था, ‘इस कहानी को मैं ही लिख सकता था क्योंकि खुद मेरी बेटी का नाम मणिकर्णिका है। मैंने अपने बचपन में लक्ष्मीबाई की वीरता की कहानी पढ़ी थी इसलिए मैंने अपनी बेटी का नाम भी मणिकर्णिका ही रखा था। मैं तो बरसों से इस मुद्दे पर फिल्म बनने का इंतजार कर रहा था।’



15 मुख्य किरदारों के लिए अलग-अलग कॉस्ट्यूम

फिल्म के कॉस्ट्यूम नीता लुल्ला ने डिजाइन किए हैं। इसके लिए उन्होंने छह महीने से ज्यादा का वक्त लिया। उनके साथ इस काम में करीबन 40 लोग जुटे हुए थे। मुख्य किरदारों के मामले में ही 40 से 50 कॉस्ट्यूम चेंजेस हैं। नीता ने एक इंटरव्यू में बताया है कि अमूमन फिल्मों में मुख्य किरदारों की तादाद चार से पांच होती है। यहां 15 मुख्य किरदारों हैं। आप समझ सकते हैं कि यह फिल्म कॉस्ट्यूम ड्रामा के तौर पर भी कितनी वास्ट होगी। हमने मूल रूप से नौवारी साड़ियां कॉस्ट्यूम के तौर पर यूज की हैं। वॉर सीक्वेंस के लिए हमने अचकन अटायर डिजाइन किया। अंग्रेजों की यूनिफॉर्म के लिए भी हमने अच्छी खासी रिसर्च की है।

2000 क्रू मेंबर्स के साथ फिल्माए गए वॉर सीक्वेंस:फिल्म का एक्शन निक पॉवेल ने डिजाइन किया है। उनकी टीम के लोगों ने बताया कि ऑफर मिलने के 15 दिनों में ही वे अमेरिका से इंडिया आ गए। कई वॉर सीक्वेंस ऐसे थे जो उन्होंने दो-दो हजार लोगों के साथ फिल्माए। कंगना ने शूट पर जाने से पहले तकरीबन 40 दिन तलवार बाजी सीखी। उनके अलावा अंकिता लोखंडे और डैनी की ट्रेनिंग भी निक ने भारत आते ही पहले ही शुरू कर दी थी। घुड़सवारी सीखने के लिए उन्होंने सभी को दो महीने दिए। दिलचस्प बात यह है कि इस फिल्म में वुमन फाइटर्स बहुत हैं।

Source - DB 


Follow by Email