दो एक्टर को धोखा देकर 4 बच्चों के पिता से प्यार कर बैठी थीं हेमा, शादी के लिए धर्मेंद्र ने बदला धर्म


'ड्रीम गर्ल' कही जाने वालीं हेमा मालिनी का जन्म 16 अक्टूबर 1948 को हुआ था। हेमा की खूबसूरती पर हर कोई फिदा था। आज हम उनकी जिंदगी से जुड़े उस किस्से के बारे में बताएंगे जिसमें हेमा को तीन-तीन सुपरस्टार्स ने शादी के लिए प्रपोज किया था लेकिन उनकी शादी तो धर्मेंद्र के साथ होनी थी। आखिर में उन्होंने धर्मेद्र को जीवनसाथी के रूप में चुना।

70 के दशक में संजीव कुमार और हेमा मालिनी के अफेयर की खबरों ने खूब सुर्खियां बटोरीं। संजीव हेमा से मन ही मन प्यार करते थे लेकिन हेमा का नाम लगातार धर्मेंद्र से जोड़ा जा रहा था। वहीं हेमा के घरवाले दोनों के रिश्ते को स्वीकार करने के लिए तैयार नहीं थे इसलिए संजीव कुमार ने अपने माता-पिता को हेमा मालिनी के घर शादी का प्रस्ताव लेकर भेज दिया लेकिन हेमा की मां ने ये कहकर रिश्ता करने से मना कर दिया कि उनकी बेटी की अभी शादी की उम्र नहीं है। जिसके बाद संजीव कुमार ने जितेंद्र को हेमा के घर शादी का प्रस्ताव लेकर भेजा।

हेमा को समझाने पहुंचे जितेंद्र का दिल उन पर आ गया। संंजीव को मना करने के बाद जितेंद्र को लगा कि हेमा मालिनी शायद उन्हें हां कह देंगी। उन्होंने भी हेमा को प्रपोज कर दिया। उनके प्रस्ताव के बाद अब हेमा असमंजस में पड़ गईं। इस बीच हेमा मालिनी की नजदीकियां धर्मेंद्र के साथ बढ़ने लगीं।



धर्मेंद्र पहले से शादीशुदा थे। ऐसे में हेमामालिनी को समझ नहीं आ रहा था कि वो क्या फैसला लें। फिल्म 'दुल्हन' की शूटिंग के दौरान जितेंद्र और हेमा ने साथ में काफी अच्छा समय बिताया। शूटिंग खत्म होने के बाद जितेंद्र अपने माता-पिता को लेकर हेमा के घर पहुंच गए। दोनों के घरवाले बात ही कर रहे थे कि तभी धर्मेंद्र का फोन आया। उन्होंने हेमा पर गुस्सा निकालते हुए कहा कि वो फैसला लेने से पहले उनसे मिलें।

हेमा को परेशान देख जितेंद्र ने सोचा कि कहीं वो अपना फैसला ना बदल दें इसलिए उन्होंने उसी दिन मंदिर में शादी का फैसला किया। हेमा इस बारे में सोच ही रही थीं कि जितेंद्र की गर्लफ्रेंड शोभा का फोन आया। बस फिर क्या था इस फोन के बाद जितेंद्र से उनका रिश्ता खत्म हो गया।

जितेंद्र ने अपनी गर्लफ्रेंड शोभा से शादी कर ली। अभी हेमा और धर्मेंद्र की प्रेमकहानी अधूरी थी। वहीं हेमा के पिता को ये रिश्ता बिलकुल मंजूर नहीं था। धर्मेंद्र का शादीशुदा होना उनके रिश्ते की बाधा बन रहा था। दोनों अब खुलकर मीडिया के सामने अपने रिश्ते को कबूलने लगे थे। वहीं धर्मेंद्र अपनी पत्नी प्रकाश कौर के बारे में कभी कोई बात नहीं करते थे। हेमा से शादी से पहले ही धर्मेंद के चार बच्चे थे।

प्रकाश कौर, धर्मेंद्र को तलाक देने को तैयार नहीं थीं। आखिरकार हेमा और धर्मेंद्र ने वो फैसला लिया जो वो कभी नहीं लेना चाहते थे। दोनों ने इस्लाम धर्म कबूल कर शादी करने का फैसला किया। फिर दोनों ने चुपचाप निकाह कर लिया हालांकि बाद में धर्मेंद्र ने इससे इनकार किया था। 

Source - Amar Ujala 


Follow by Email