किसान के बेटे आकाश ने रजत जीता, ओलिंपिक खेलों में पहली बार भारत को चांदी दिलाई



आकाश मलिक ने यूथ ओलिंपिक गेम्स की तीरंदाजी स्पर्धा में रजत पदक जीता। ओलिंपिक खेलों में भारत ने पहली बार तीरंदाजी में रजत पदक जीता है। इससे पहले सीनियर या जूनियर किसी भी ओलिंपिक में भारत ने तीरंदाजी में रजत पदक नहीं जीता था। ओलिंपिक में तीरंदाजी में भारत का यह दूसरा पदक है। 2014 नानजिंग यूथ ओलिंपिक में अतुल वर्मा ने तीरंदाजी में कांस्य पदक जीता था। किसान के बेटे आकाश फाइनल में अमेरिका के ट्रेनटॉन कोल्स से 6-0 से हार गए। भारत के अब इस टूर्नामेंट में तीन स्वर्ण, नौ रजत और एक कांस्य पदक हो गए हैं। 


क्वालिफिकेशन में पांचवें स्थान पर रहे थे आकाश

15 साल के आकाश क्वालिफिकेशन में पांचवें, जबकि कोल्स 15वें स्थान पर रहे थे। हालांकि, हरियाणा के रहने वाले आकाश फाइनल में अपनी लय बरकरार नहीं रख सके। तीनों सेट में उनका स्कोर कोल्स से कम रहा।

आकाश ने पहले सेट में 26, दूसरे में 27 और तीसरे में 26 अंक बनाए। वहीं, कोल्स ने पहले सेट में 28, दूसरे में 29 और 28 अंक बनाए। इससे पहले सेमीफाइनल में आकाश ने बेल्जियम के सेना रोस को 6-0 से हराया था।

आकाश इससे पहले तुर्की की सेलिन साटिर की जोड़ी मिक्स्ड इंटरनेशनल टीम इवेंट में आठवें स्थान पर रहे थे। भारत और तुर्की खिलाड़ियों की जोड़ी क्वार्टर फाइनल में थाईलैंड के एथ्थीवट सोइथोंग और अर्जेंटीना की अगस्टानिया सोफिया गियाननासियो की जोड़ी से हार गए।

मुकाबले के बाद आकाश ने कहा, 'मैंने तेज हवा के लिए तैयारी की थी, लेकिन यहां वह उससे भी तेज थी।' उन्होंने कहा, 'रजत पदक जीतकर मुझे अच्छा लग रहा है, लेकिन सच यह है कि मैं स्वर्ण पदक जीतने से चूक गया।'

छह साल पहले तीरंदाजी सीखना शुरू किया था

आकाश ने छह साल पहले ही तीरंदाजी सीखनी शुरू की थी। मंजीत मलिक ने एक ट्रायल के दौरान उनका चयन किया था। फिजिकल ट्रेनर से कोच बने मंजीत ने उसके बाद आकाश की प्रतिभा निखारना शुरू की।

मंजीत ने बताया, 'वह बहुत शांत और स्थिर है। मैं सोचता हूं कि वह बहुत तेजी से तीर शूट कर सकता है। वह बहुत आत्मविश्वास के साथ तीर चलाता है। जब फाइनल शुरू हुआ तब बारिश हो रही थी।'

आकाश 2014 में विजयवाड़ा में हुई नेशनल अंडर-14 आर्चरी चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने वाली ब्वायज टीम का हिस्सा थे। उन्होंने 2017 में यूथ ओलिंपिक क्वालिफाइंग में स्वर्ण पदक जीता था।

आकाश पिछले एक साल में एशिया कप स्टेज वन में स्वर्ण, एशिया कप स्टेज टू में दो कांस्य और साउथ एशियन चैम्पियनशिप में एक कांस्य पदक जीत चुके हैं। आकाश मौजूदा समय में ओलिंपिक गोल्ड क्वेस्ट में एनरोल्ड हैं और पुणे स्थित ऑर्मी स्पोर्ट्स इंस्टीट्यूट में दक्षिण कोरियाई कोच किम हगयोंग से ट्रेनिंग ले रहे हैं।

Source - Dainik Bhaskar 

Follow by Email