सस्ते नशे के लिए इस्तेमाल किए हुए सेनेटरी पैड और ड...



इंडोनेशिया देश में कुछ युवाओं को नशा करने के लिए गिरफ्तार किया गया. नॉर्मल बात है. अक्सर युवा नशे की गिरफ्त में आ जाते हैं. मगर ये नशा इतना बुरा है कि सुनकर उल्टी आ जाए.


ये टीनएजर्स इस्तेमाल किए हुए सेनेटरी पैड और डायपर पानी में उबालकर इसका लिक्विड बना रहे हैं. जो भी केमिकल इससे लिक्विड फॉर्म में मिलते हैं उसको पीकर ये नशा कर रहे हैं.

इंडोनेशिया के ड्रग एन्फोर्स


मेंट एजेंसी के प्रमुख परेशान हैं. क्योंकि ऐसा केस पहली बार आ रहा है. उनके मुताबिक़ इन युवाओं की उम्र 13 से 16 के बीच है.

रिपोर्ट्स के मुताबिक़ इन केमिकल्स को लेने से अजीब नतीजे होते हैं. कई युवाओं ने बताया कि इसे लेने के बाद उड़ने का आभास होता है. 14 साल के एक बच्चे ने पुलिस के सामने स्वीकारा इस लिक्विड को वो सुबह, दोपहर, शाम, तीनों समय लेते हैं.

अब इंडोनेशिया का स्वास्थ्य मंत्रालय ये पता लगाने की कोशिश में है कि नैपकिन और डायपर में ऐसा कौन सा केमिकल होता है. जिसे डिस्टिल करके नशा किया जा रहा है. वहां की लैब्स कहती हैं कि पैड में ऐसे कोई केमिकल नहीं होते तो सीधे तौर पर नशा देते हों. इसके अलावा पैड में जो केमिकल गीलापन सोखने के लिए जोड़े जाते हैं, वो शरीर को काफी नुकसान पहुंचाते हैं.

पहले तो 13 साल के बच्चे नशा करें, ये अपने आप में डरावनी बात है. उसपर इस नशे को पाने के लिए इतनी घटिया चीजों को इस्तेमाल हो, ये और डरावना है.

Follow by Email