WhatsApp Gold: फर्जी है और ये आपके लिए खतरनाक भी है

WhatsApp Gold: फर्जी है और ये आपके लिए खतरनाक भी है

WhatsApp गोल्ड का भूत एक बार फिर से वापस आ गया है. 2016 में WhatsApp गोल्ड को लेकर काफी वायरल पोस्ट आपने देखी होगी. इतना ही नहीं WhatsApp Plus भी काफी चर्चा में रहा और ये भी फर्जी था. बताया जा रहा था कि कंपनी WhatsApp को अपग्रेड करके वॉट्सऐप गोल्ड ला रही है, लेकिन ये पूरी तरह से गलत था और अब भी गलत है. इस बार भी सोशल मीडिया पर वॉट्सऐप गोल्ड को लेकर लोग पोस्ट कर रहे हैं जो पूरी तरह से फर्जी और भ्रामक है.
माइक्रो ब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर और यूट्यूब पर कुछ ऐसे वीडियोज भी मिल जाएंगे जिनमें वॉट्सऐप गोल्ड का जिक्र है. अगर आपके पास वॉट्सऐप गोल्ड इंस्टॉल करने के लिए ईमेल या फिर मैसेज कोई भी लिंक आए तो उसे ओपन न करें. क्योंकि यह मैलवेयर या वायरस हो सकता है. वॉट्सऐप गोल्ड नाम के फीचर का कोई भी लिंक आपके पास आए तो उसे रिपोर्ट करें.
वॉट्सऐप की तरफ से न तो वॉट्सऐप गोल्ड लाया गया है और न ही वॉट्सऐप प्लस. आपको बता दें कि वॉट्सऐप के दो वर्जन हैं- एक नॉर्मल जो आप यूज करते हैं और दूसरा बिजनेस वॉट्सऐप. दोनों ही एक जैसे ही हैं, लेकिन बिजनेस अकाउंट में वेरिफिकेशन मिलता है कि वो बिजनेस ऑथेन्टिक है या नहीं. बिजनेस अकाउंट के जरिए कंपनी अपने कस्टमर्स से कम्यूनिकेशन करती है. इसके अलावा किसी तरह का वॉट्सऐप नहीं है.
एक वॉट्सऐप मैसेज भी वायरल हो रहा है जिसमें कहा गया है, ‘WhatsApp गोल्ड, एक वीडियो लॉन्च किया जाएगा जिसे Martinelli कहा जाएगा. इसे न खोलें. यह वायरस है और आपके स्मार्टफोन में आएगा और आप कुछ भी नहीं कर सकते हैं. आप वॉट्सऐप गोल्ड में अपग्रेड न करें क्योंकि ये वायरस है.’

Follow by Email