डरावनी रिपोर्ट...कोरोना वायरस से 52 हजार लोग हो सकते हैं बीमार!



चीन (China) के हुबेई (Hubei) प्रांत के वुहान शहर (Wuhan City) से फैला कोरोनावायरस (Coronavirus) अब तक दुनिया भर के 26 देशों में 24,534 लोगों को संक्रमित कर चुका है. इसमें से सिर्फ 24,324 संक्रमित लोग चीन में ही हैं. कोरोनावायरस से अब तक कुल 492 लोगों की मौत हो चुकी है. लेकिन यह वायरस अभी और फैलेगा. जानिए अभी कोरोनावायरस और कितने लोगों को संक्रमित करेगा?

मेडिकल जर्नल द लैंसेट की माने तो कोरोनावायरस (Coronavirus) की शुरुआत 1 दिसंबर 2019 को ही हो गई थी, जब वुहान के एक व्यक्ति को इसने अपनी जकड़ में लिया. लेकिन इसका खुलासा चीन ने करीब एक महीने बाद 31 दिसंबर 2019 को किया. एक महीने में इस बीमारी से 44 लोग संक्रमित हो चुके थे. 

1 दिसंबर 2019 से लेकर 5 फरवरी 2020 तक यानी 67 दिनों में कोरोनावायरस (Coronavirus) ने 26 देशों के कुल 24,534 लोगों को अपनी गिरफ्त में ले चुका है. सबसे बड़ा सवाल ये है कि इस वायरस से अभी और कितने लोग बीमार या संक्रमित हो सकते हैं?

ऑस्ट्रेलिया के ब्रिसबेन में स्थित क्वींसलैंड यूनिवर्सिटी के वायरोलॉजिस्ट इयान मैके ने एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा है कि कोरोनावायरस (Coronavirus) चीन से बाहर निकल चुका है. अब इसे रोक पाना थोड़ा मुश्किल है. इसकी वजह से 26 देशों के लोग संक्रमित हो चुके हैं. इसे नियंत्रित करने में अभी काफी समय लगेगा.

इयान मैके ने जिस रिपोर्ट का हवाला लिया है उसके मुताबिक अगर लोगों ने सावधानी नहीं बरती तो कोरोनावायरस (Coronavirus) भविष्य में 40 हजार से लेकर 52 हजार लोगों को संक्रमित कर सकता है. इस रिपोर्ट को तैयार किया है अमेरिका, इटली और चीन के वैज्ञानिकों ने.

कोरोनावायरस अभी कुल संक्रमित लोगों में से 2 फीसदी लोगों को मार चुका है. रिपोर्ट में आशंका जताई गई है कि अगर यही दर आगे भी रही तो कुल संक्रमित लोगों में से 800 से 1040 लोगों की मौत भी हो सकती है

इस रिपोर्ट को तैयार करने वाले वैज्ञानिकों का नाम है - मैटियो चिनजाजी, जेसिका टी डेविस, कोराडे जियोनिनी, मारिया लिविनोवा, अना पास्तोर पियोंती, लुका रोसी, जिनयुई जियॉन्ग, एम. एलिजाबेथ हैरोरान, इरा एम. लोंगिनी जूनियर और एलेसांड्रो वेसपिनानी.

ये सभी वैज्ञानिक अमेरिका के लेबोरेटरी फॉर द मॉडलिंग ऑफ बायोलॉजिकल एंड सोशियो-टेक्नीकल सिस्टम्स- बोस्टन, आईएसआई फाउंडेशन- इटली, फ्रेड हचिंसन कैंसर रिसर्च सेंटर सिएटल अमेरिका, वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी, यूनिवर्सिटी ऑफ फ्लोरिडा में विभिन्न प्रकार के वायरसों का अध्ययन करते हैं.

कोरोनावायरस (Coronavirus) से चीन के बाद जिन देशों को सबसे ज्यादा खतरा है, वो हैं - थाईलैंड, जापान, ताईवान, द. कोरिया, अमेरिका, सिंगापुर, मलेशिया, वियतनाम, ऑस्ट्रेलिया, फिलिपींस, इंडोनेशिया, कंबोडिया, यूके, कनाडा, रूस, जर्मनी, यूएई, भारत, इटली, फ्रांस, न्यूजीलैंड, म्यांमार, स्पेन और श्रीलंका. 

Source - Aaj Tak 

A News Center Of Positive News By Information Center

Follow by Email