रेलवे ने 44 वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेनों के लिए निकाले टेंडर, मेक इन इंडिया के तहत बनेंगी ये गाड़ियां

भारतीय रेलवे देश में ट्रेनों की स्पीड बढ़ाने के लिए लगातार प्रयास कर रहा है. इस दिशा में रेलवे ने 44 वंदे भारत ट्रेनों के लिए फिर से टेंडर निकाला है. ये टेंडर रेलवे की वेबसाइट www.ireps.gov.in पर डाल दिया गया है. ये टेंडर तीन चरणों में पूरा किया जाएगा जिसमें Propulsion, Control सिस्टम और ट्रेन सेट की बोगी के साथ अन्य इक्यूपमेंट हैं.
रेलवे की ओर से इस टेंडर को लेकर कंपनियों के साथ 29.9.20 को प्री बिड मीटिंग की जाएगी. इन 44 वंदे भारत ट्रेनों के लिए निकाले गए टेंडर की ओपनिंग डेट 17.11.20 रखी गई है. इस डेट के पहले सभी रुचि दिखाने वाली कंपनियों को टेंडर डालना होगा.
रेलवे की ओर से निकाले गए टेंडर में रखी गई हैं ये शर्तें
भारतीय रेलवे इन 44 वंदे भारत ट्रेनों को मेक इन इंडिया अभियान के तहत बनाना चाहता है. ऐसे में टेंडर में साफ तौर पर कहा गया है कि इन ट्रेनों को रेलवे की चेन्नई स्थित (ICF/Chennai), कपूरथला स्थित आरसीएफ (RCF/Kapurthala) और रायबरेली स्थित एमसीएफ (MCF/Raebareli) में बनाया जाएगा.
मेक इन इंडिया पॉलिसी को ध्यान में रखते हुए रेलवे ने इन ट्रेनों में 75 फीसदी भारत में बने पुर्जे लगाने का ऐलान किया है.
आत्म निर्भर भारत (AtmaNirbhar Bharat) के DPIIT नियमों के तहत यह पहला सबसे बड़ा टेंडर होगा.
इस टेंडर पूरी तरह से देश की कंपनियों के लिए है. इसमें वो ही कंपनियां आवेदन कर सकती हैं जिनका रजिस्ट्रेशन भारत में हो.
कंपनियों को इस टेंडर के लिए राशि रुपये में भरनी होगी.
वंदे भारत एक्सप्रेस एक सेमी हाई स्पीड ट्रेन है. इस ट्रेन को रेलवे की चेन्नई स्थित इंटीग्रल कोच फैक्ट्री ने तैयार किया है. इस ट्रेन को फिलहाल दो रूटों दिल्ली से वाराणसी और दिल्ली से कटरा रेलवे स्टेशन के बीच चलाया जा रहा है. रेलवे ने ट्रैक की स्थिति को देखते हुए इन ट्रेनों की अधिकतम स्पीड 130 किलोमीटर प्रति घंटा रखी है. रेलवे कई और रूटों पर ये ट्रेनें चलाने की तैयारी कर रहा है. इसी के लिए 44 वंदे भारत ट्रेनों के लिए टेंडर निकाले गए हैं.
Source – Zee News

A News Center Of Positive News By Information Center

Follow by Email